3.17.2007

अंधेरा तो सिर्फ देहरी पर...

उस पार है
उम्मीदों और उजास की
पूरी दुनिया।
अंधेरा तो सिर्फ देहरी पर है...

1 comment:

Arvind said...

चलो कुछ काम तो शुरू हुआ। अब बाकी सामग्री भी हिन्दी में आ जाए तो मज़ा आ जाए।
शीर्षक भी हिन्दी में होना चाहिए। कोष्ठ में अंग्रेज़ी में दिया जा सकता है।